देहाती चुदाई गांव की

Image source,देहाती सेक्सी भोजपुरी

Image caption,

इंडियन चुदाई हिंदी: देहाती चुदाई गांव की, मेरे बात ख़तम होने से पहले नानाजी मेरी तरफ देखके मेरी बात काट दिया और थोड़ी स्माइल के साथ एक दम साफ लहजे में कहा.

करिष्मा कपूर का सेक्सी व्हिडिओ

इसी तरह दो और पेटियाँ खोला हमने और पहले वाले पेटी की तरह ही बाकी दोनों में भी अत्याधुनिक हथियार रखे हुए थे.. हिंदी कामसूत्र सेक्सी वीडियोछवि बहुत खुश हुई और वो बोली- सतीश धन्यवाद, आगे कब चुदाई का प्रोग्राम बना सकती हैं हम?मैं बोला- नैना आंटी मेरी निजी सेक्रेटरी है, तुम जब चाहो नैना आंटी से फ़ोन पर बात कर के प्रोग्राम बना सकती हो.फिर दोनों ने मुझको विदाई किस की और अपने कमरे में चली गई..

मैं थोड़ी देर शांत खड़ा रहा .. समझ में नहीं आ रहा था कि क्या कहूँ. दूसरी और से शंकर भी चुप है .. उसकी भी सिर्फ़ सांसे ही सुनी जा सकती हैं.. इंडिया की देसी सेक्सी वीडियो‘ये भी नहीं पता की ये दर्द दर्द नहीं था, ये तो मेरी मुक्ति का रास्ता था, इस दर्द को ही तो मेहसुस करने के लिए कितना तडपि हु में.

मैं अन्दर ही अन्दर कन्फर्म हो गया था की यार कहीं न कहीं , कुछ न कुछ गड़बड़ है और मुझे इस गड़बड़ का कारण / जड़ का पता करना पड़ेगा | कहीं ऐसा ना हो की समय हाथ से यूँ ही निकल जाए और कोई बड़ा और गंभीर काण्ड हो जाए ... |.देहाती चुदाई गांव की: सोचते ही मैं सिहर उठा, रूह काँप गई मेरी --- मेरी सुन्दर, मासूम सी चाची पर कौन ऐसी दरिंदगी कर सकता है भला और क्यों?.

मैं अपने रिस्ट वाच की ओर देखा.. खड़े खड़े पाँच मिनट ऐसे ही बीत गए. लड़का अभी भी ड्राईवर से पूर्ववत बात किये जा रहा है. एक दो बार उसने सिर इधर उधर कर घूमाते समय एकाध बार हमारे कार की ओर भी देखा.. शायद उसे अभी भी कोई संदेह नहीं हुआ है..अगले दिन जैसे ही कॉलेज में घुसा तो पूनम के अंकल उसको छोड़ कर जा रहे थे. पूनम ने मुझको उनसे मिलवाया और वो बड़े तपाक से मिले और बोले- आप आना बेटा कभी हमारे घर में, थोड़ा दूर तो है लेकिन इतना नहीं.मैंने ओपचारिक तौर से कह दिया- अवश्य आऊँगा..

क्सक्सक्स मूवी सेक्सी - देहाती चुदाई गांव की

मैंने कहा- छाया, तुम्हारे मम्मे तो बहुत बड़े हो गए हैं, और थोड़े भारी भी हो गए हैं ये दोनों.छाया हँसती हुई बोली- हाँ छोटे मालिक, नए मेहमान के स्वागत में ये दूध से भर रहे हैं धीरे धीरे. नया मेहमान तो आते ही दूध मांगेगा.उर्मि भी मुझको चूमने लगी बेतहाशा और फिर वो एकदम से मेरे कपड़ों पर टूट पड़ी और जल्दी जल्दी मुझको वस्त्रहीन करने लगी.मैं भी उसके कपड़े उतारने लगा, पहले उसकी हल्के नीले रंग की साड़ी को उतार दिया और फिर उसके नीले रंग के ब्लाउज को भी.

सैंडी बड़ी बेदिली से जूली के पास गई और बोली- क्या री? क्या दिखाना चाहती है?जूली मेरा खड़ा लौड़ा निकाल कर सैंडी को दिखाने लगी. सैंडी मेरा खड़ा लंड देख कर अचरज में पड़ गई और उसको अपने हाथ में लेती. देहाती चुदाई गांव की क्या ये संभव है की जिस तरह मैंने उस लाल वैन को देखा, उसी तरह उस लाल वैन में मौजूद शख्स ने मुझे देखा हो? --- माना दूरी बहुत थी --- मैं शायद उनके पहचान में भी नहीं आऊँगा ; पर इतना तो संभव है ही कि उस या उन लोगों ने दरवाज़े पर किसी को खड़े रहते देखा हो ---? इतना तो देख ही सकते हैं ....

अरे आप बेफ़िक्र रहो रहमत भाई... इतने सारे माल पहुँच गए... ज़रा सा भी कहीं कोई दिक्कत हुआ क्या...? ये वाला भी आ जाएगा --- अच्छा, एक बात बताइए.. ये जो कन्साइनमेंट आने वाला है, इसमें भी वही माल है न जो बाकी यहाँ रखें पेटियों में हैं...??.

सेक्सी वीडियो बीपी हिंदी?

देहाती चुदाई गांव की अभी मैंने पूरी तरह से चुदवाना सीखा भी नहीं था कि पति जी शहर चले गए और मैं फिर अकेली रह गई जबकि चुदाई का चस्का लग चुका था.कुछ महीने बाद मुझको लंड की कमी बहुत ही ज़्यादा खलने लगी और मैंने इधर उधर देखना शुरू कर दिया..

देसी इंडियन सेक्सी वीडियो? बाहुबली फिल्म download

देहाती चुदाई गांव की मेरी स्पीड के आगे जूही भाभी ज़्यादा देर टिक नहीं सकी और वो भी शीघ्र ही स्खलित हो गई.अब दोनों इलाहबादी अमरूदों को वहीं छोड़ कर मैं पलंग के एक कोने में सो गया और सुबह जब नींद खुली तो वो दोनों घोड़े बेच कर सोई थी और मुझको ही उठ कर दरवाज़ा खोलना पड़ा..

श्रीदेवी सेक्सी वीडियो

हम दोनों, मतलब मैं और मोना, दोनों ने ही पूरा घटनाक्रम बहुत अच्छे से देखा पर दाद देनी होगी मोना की भी कि इस दौरान उसने अपनी बातों को बहुत अच्छे से जारी रखी.. रात को खाना खाकर हम सब मेरे कमरे में इकट्ठे हुए और मैंने उन सबको बताया कि मैंने टैक्सी के लिए बोल दिया है और हम कल सुबह गाँव के लिए निकल जाएंगे. इससे पहले पारो और लखन लाल और बाकी कर्मचारियों का हिसाब सुबह कर कर देंगे और उनको कह देना कि वो चाहें कल या फिर परसों अपने गाँव जा सकते हैं..

देहाती चुदाई गांव की मै बस हासके सर हिलाया तो वह चले गये. मुझे भी जाने का मन कर रहा था पर अब पॉसिबल नहीं है. सो में बाहर रिसेप्शन की तरफ आगे बढ़ गया..

हिंदी सेक्सी वीडियो ऑडियो

नंगी सेक्सी वीडियो देहातीनैना पलंग के बीचों बीच लेट गई और चूत वाली साइड मैं उसकी टांगो को चौड़ा कर के बैठ गया और पारो उसके मुंह पर टांगों के बल बैठ गई और अपनी चूत को नैना के मुंह के ठीक ऊपर रख दिया.मैंने धीरे से अपनी जीभ उसकी चूत में एक बार घुमाई और फिर उसके भगनसा को चाटने और चूसने लगा..

वो बोली- सतीश, तुमको बता दें कि हमने यह खेल कई बार खेला है अपने गाँव के दोस्तों के साथ… हमको इस खेल के सारे रूल्स और कायदे मालूम हैं. तुम मुझको शामिल करते हो या नहीं वरना मैं अभी चिल्ला दूंगी.मैंने नैना की तरफ देखा और उसने हल्के से आँख मार दी.. मैं जानता हु की अलमारी के अंदर में उनके लिए बहुत सारी सारीज, ज्वेल्लरी वगेरा सारी चीज़ों को जो खरीदके रखा है,.

सच बताओ.. ऐसा तुम्हारा अंदाज़ा है या तुम कुछ जानते हो इस मामले में और मुझे बताना नहीं चाहते.. ? क्योंकि जब से तुम्हारे साथ हूँ... आज तक तो तुम्हारा कोई अंदाज़ा गलत नहीं हुआ..

चाचा और चाची ने हाथ जोड़कर इंस्पेक्टर का अभिवादन किया, इंस्पेक्टर ने भी प्रत्युत्तर में हाथ जोड़ कर मुस्कराया | कुछेक ज़रूरी कागज़ी कार्रवाई कर के दोनों थाना से निकल गये पर इंस्पेक्टर विनय को चाची के मटकते नितम्ब उनके चले जाने के बाद भी बहुत देर तक नज़र आते रहे |.

जेनी पहले तो कुछ झिझकी फिर मान गई और बोली- सेक्स किसके साथ करना पड़ेगा?मैं बोला- पुरुष सिर्फ मैं हूँ, बाकी सब लड़कियाँ हैं तो कभी मेरे साथ और कभी आपस में! बोलो चलेगा?जेनी बोली- चलेगा अगर तुम्हारे साथ सेक्स करना है तो दौड़ेगा..

जानवरों की सेक्सी फिल्म जानवरों की सेक्सी फिल्म मैं अब ट्रेन के फर्श पर बैठ गया और उसके नितम्बों को चूमने और चाटने लगा जिससे उसको बड़ा मज़ा आ रहा था.अब मैं लेटी हुई शमा के गोल मुम्मों को जीभ से चाटने लगा और उसकी चूचियों का रसपान करने लगा.शमा ने मुझको एक बहुत ही गहरी जफ़्फ़ी डाल दी और मेरे लबों को चूमने लगी, मैं भी उसके अधरों को जीभ से चूसने लगा..

स्टूडेंट टीचर की सेक्सी वीडियो

देहाती चुदाई गांव की: बाद में नैना ने सबके लिए स्पेशल बनाई डिश देसी अण्डों का हलवा सबको दिया, जिसको सबने बहुत पसंद किया और कहा- पहले कभी नहीं खाया ऐसा हलवा!खाना खाकर कोक पीया सबने और फिर सब मेरे कमरे में इकट्ठे हो गए.तब तक नैना और पारो भी रसोई से फ़ारिग़ होकर हम सबके साथ आकर ग्रुप में शामिल हो गई.. नैना हंस कर बोली- वाह छोटे मालिक, आप तो दोनों के आशिक हो गए हो!मैं थोड़ा शरमाया और फिर बोला- सच बताऊँ? आप दोनों बुरा तो नहीं मानोगी न?.