ब्लू फिल्म नांगी फिल्म

Image source,पाळी येण्यासाठी गोळी

Image caption,

हैदराबाद के बारे में: ब्लू फिल्म नांगी फिल्म, अब आगे क्या होगा और कैसे होगा कुछ पता नहीं था लेकिन जितना भी करके आया था उसमें बहुत मजा आया था और मुझे बहुत अच्छा फील हो रहा था खास कर जब दीदी के बूब्स पकडे थे और जब दीदी ने लिप् किसिंग की थी वो।।।।। कितना लकी था मैं यही सब मैं सोच रहा था।.

বাংলা চটি সেক্স

अलका थोड़ा सा सरक जाती है, रवि भी थोड़ा सरक कर उसके पास आ जाता है अब दोनो की जांघे एक दूसरे से टच होने लगती है,. நிவேதா தாமஸ் sex'अब तुम मेरा प्यार हो और मैं तुम्हारा ---- जब तुम सागर की जगह ले चुके हो - तो वैसे ही बुलाओगे - जैसे सागर मुझे बुलाता था ' सुमन सुनील की आँखों में देखते हुए बोली..

सुमन तयार हो कर हाल में आ गयी..तभी सुनील ने उसे बताया कि उसे आज विक्रम से मिलने जाना है… ये दोनो बातें कर रहे थे और इस दौरान सोनल ने ब्रेकफास्ट टेबल पे लगा रूबी को भी बुला लिया था.. लड़की नंगा फोटोअलका उसे गुस्से से देखती हुई, रवि मुझे तुम्हारी यही सब बाते अच्छी नही लगती, तुमको ज़रा सा मोका दो तो तुम अपनी हदे पार करने लगते हो,.

सोनल ने अच्छी तरहा सुनील के जिस्म का मसाज किया और उसे नहा कर बाहर जाने को कहा…पर सुनील कहाँ मानने वाला था…उसने भी सोनल के जिस्म का अच्छी तरहा मसाज किया फिर सोनल बाथ टब में लेट गयी और गरम पानी से अपने जिस्म की सिकाई करने लगी…सुनील शवर बाथ ले बाहर निकल गया..ब्लू फिल्म नांगी फिल्म: तब तक विक्रम भी आ गया और रूबी का ब्यान लेके चला गया….रूबी ने रमण के लेटर वाली बात छुपा ली…थी….लेकिन विक्रम ने उस वक़्त कुछ नही बोला…..बस दिमाग़ में एक शक़ ले कर चला गया….लॉट के फिर आने के लिए..

सुनील....देखो मैं तो यहाँ रिलॅक्स करने आया हूँ ....रिज़ॉर्ट में इतनी फेसिलिटीस हैं...प्राइवेट बीच है ...एंजाय करो ...एक दिन चलेंगे ....स्टीमर....सिटी टूर शॉपिंग सब करलेंगे और हां कहीं और जाना हो तो अपनी भाभी मिनी के साथ चली जाना .....सोनल ने अपनी दोनो बाँहों से सुनील के पीठ को कसते हुए खुद से चिपका लिया. उसके उरोज़ सुनील की छाती के नीचे पिसने लगे. उफफफफफफफफ्फ़ म्म्म्मेमाआआ सोनल सिसक पड़ी..

नंगी चुदाई करते हुए - ब्लू फिल्म नांगी फिल्म

और सुनील सोनल के होंठ चूसने लग गया …. सोनल ने अपनी पोज़िशन बदली और दोनो टाँगें कुर्सी के दोनो तरफ कर इस तरहा बैठी कि उसकी चूत सुनील के लंड से घिसने लगी..राजेश ...घोन्चु महाराज ....फिर मत कहना तुझे तेरी होनेवाली भाभी से नही मिलाया ....फिर सीधा भाभी से ही मिलेगा ...कल शाम को एंगेज्मेंट है..

‘अट दा सेम टाइम आइ कॅन’ट फर्गेट आइ’म युवर सन – क्यूँ कर रही हो ऐसा मोम – क्यूँ – क्यूँ – क्यूँ – मुझे सेक्स लेसन्स की ज़रूरत नही – सीख जाउन्गा वक़्त के साथ – और अब तो मैं वो दर्द भी भुला चुका हूँ – जो उस कड़वे सच ने दिया था – आइ हेट समर मोम – आइ हेट हिम – भगवान करे वो मेरे सामने कभी ना आए’. ब्लू फिल्म नांगी फिल्म रवि- अलका की गान्ड और चूत मे अपना हाथ भरता हुआ दीदी तुम्हारी मोटी गान्ड कितनी खूबसूरत है और अलका की गान्ड के मोटे-मोटे पाटो को विपरीत दिशा मे फैला-फैला कर ड्रेसिंग टेबल के शीशे मे देख रहा था और अलका उसके पूरे लंड को दबोच रही थी,.

मेरे लाल....आआहह.....उउउन्न्ननज्ग्घह......भर दे मेरी चूत अपने रस से......मेरे लाल.....हइईए........भर दे मेरी चूत सलोनी अपनी चूत में राहुल के लंड से निकलती वीर्य की तेज़ धारों को महसूस करती है तो उसका सखलन और भी तीव्र हो जाता है |.

తెలుగు కామ కధలు?

ब्लू फिल्म नांगी फिल्म अलका- रवि की आँखो मे देखती हुई पर रवि मुझे बहुत शर्म आ रही है मैं तेरे सामने सिर्फ़ ब्रा और ? मैं नही.

देवीच्या साडीचा रंग कोणता? அக்காவும் நானும்

ब्लू फिल्म नांगी फिल्म अब तो सब खुल गया था – सबको पता चल गया था उसका और रूबी का रिश्ता – वो रूबी से माफी माँग एक बार फिर नये सिरे से जिंदगी शुरू करना चाहता था – पर क्या कोई अब उसे रूबी से मिलने देगा- हज़ार बार मेसेज भेज भेज कर माफी माँगी थी – पर रूबी ने किसी मेसेज का जवाब नही दिया – क्या लड़कियाँ इतनी संगदिल होती हैं..

माहेरची साडी पिक्चर माहेरची साडी पिक्चर

तभी वहाँ कामया भी आ गयी, कामया ने जब सोनल को देखा तो उसका भी मुँह खुला रह गया दिल ही दिल में नश्तर चुभने लगे क्यूंकी पार्टी में सब की नज़रें सोनल पे ही ठहर जाएँगी. ये बात वो समझ गयी थी.. कमरे में जलती मोमबतियों को भी शर्म आने लगी – बाती और मोमबत्ति अपने ताप से नही कमरे में फैले इनके जिस्मो के ताप को सहन ना कर पाई और जलते हुए अपने अंत की तरफ तेज रफ़्तार से बढ़ने लगी ----- अचानक एक दम अंधेरा हो गया कमरे में..

ब्लू फिल्म नांगी फिल्म सुनील सोनल के उपर झुक गया और उसके निपल चूसने लग गया सोनल का हाथ खुद ब खुद उसके बाल सहलाने लग गया…. निपल से उठी हुई तरंगे सोनल के दर्द के अहसास को कम करने लग गयी..

संभाजी महाराज पोवाडा

दारू पी के डांस करेंजबकि जिस चद्दर की वजह से ये सब हुआ वो ज़मीन पर पड़ी थी,,,उसके गिरने से शॉल खुल गयी और रति के कठोर चूचक उसकी छाती से दब गये ऑर एक ही पल मे उसकी हालत खराब होने लगी,,.

‘अहह सुनील माइ लव…..लव मी …. टेक मी डार्लिंग…..सुनील के हाथों का अहसास अपने मम्मो पे सोनल को पागल करे जा रहा था.’. हहहयये........उफ...आबबब मेरी गांड पर............आआह्ह्ह्हह........आँख रख ली तूने............ सलोनी अखिरी झट्कोण का मज़ा लेती केहती है..

रास्ते में सुनील विक्रम को फोन कर देता है …..जो इस वक़्त आए फोन से पहले खुंदक में आता है फिर जब …..सुनील की दहाड़ से नींद खुलती है तो वादा कर हॉस्पिटल के लिए रवाना हो जाता है..

सोनल.....सुना और देखा तो यही था ....कि फूल पे भंवरे आते हैं...पर यहाँ सब उल्टा है ....यहाँ भंवरे पे फूल दौड़े चले आते हैं....

सवी और मिनी उस के इस रिमार्क पे जल भुन के रह गयी …मिनी पैर पटक रमण के पास चली गयी और सवी …मन में सोचते हुए 'अभी तो तुमने एक झलक देखी है…पिघला ना दिया तुम्हें तो मेरा नाम भी सवी नही'….भुन्भुनाती हुई अपने कमरे में चली गयी…..सुनील का रिमार्क उसे बता गया था…कि ये सब उसे अच्छा नही लगा..

गधे वाला सेक्सी लेकिन सोनल जाग रही थी. अपने हाथों में सुनील की फोटो लिए लहरा रही थी अपने कमरे में मानो जैसे सुनील के साथ डॅन्स कर रही हो..

गुण मिलन पत्रिका मराठी

ब्लू फिल्म नांगी फिल्म: हाँ बेटी सच कह रही हूँ. क्या तुझे अच्छा नही लगता की कोई तेरा दीवाना हो और हर वक़्त बस तेरे बारे मैं सोचे और तुझे देखना चाहे. तुझे चोदना चाहे.. राजेश थोड़ा और आगे बढ़ा ...बड़ा नही जैसे धीरे धीरे उसे कोई खींच रहा था उसकी नज़रें तो कविता के चेहरे से हट ही नही रही थी .......कविता की पलकें पल भर को खुली ....अपनी तरफ बढ़ते राजेश को देख सिहर गयी और फट से घुँगत कर लिया ........